Thursday, May 23, 2024
HomeAstrologyगोमेद रत्न कब और कैसे धारण करें, जाने फायदे व् छुपे नुक्सान

गोमेद रत्न कब और कैसे धारण करें, जाने फायदे व् छुपे नुक्सान

- Advertisement -
- Advertisement -
4.7
(9341)

क्या आप सोच भी सकते हैं कि किसी पत्थर को देखकर कोई मनुष्य बहुत ज्यादा खुश हो सकता है। जी हां, प्रकृति हमें रत्न के रूप में ऐसे ही पत्थर देती है जिन्हें देखकर व्यक्ति हमेशा खुश ही होता है।

रतन बेहद अनमोल पत्थर होता है और यह बहुत से रंगों में पाया जाता है। प्रत्येक रत्न की अपनी-अपनी खासियत होती है कुछ घर की समस्याएं दूर करते हैं तो कुछ आर्थिक तंगी को दूर भगाते हैं, वहीं कुछ बीमारियों का खत्म करते हैं। 

आज के इस लेख में हम आपको एक बेहद ही खास रत्न गोमेद रखने के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे।

गोमेद रत्न क्या होता है

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यह रत्न बहुत खास माने जाने वाले नवरत्नों में से एक है। यह सुनहरे और शहद के समान भूरे रंग में पाया जाता है। इस रत्न को हेसोनाइट के नाम से जाना जाता है।

gomed ratna ke fayde

इस रत्न में मैंगनीज और आयरन की उपस्थिति होती है और इसी कारण से यह शहद के समान रंग का होता है। यह दुनिया भर में अपनी सुन्दरता के लिए जाना जाता है। 

ये व्यक्ति पहने गोमेद

  • जिस व्यक्ति की कुंडली में राहु दोष होता है उस व्यक्ति को यह रत्न धारण करना चाहिए। 
  • कुंभ राशि के जातकों को भी यह रत्न पहनने की सलाह दी जाती है। 
  • तुला, वृषभ और मिथुन राशि वाले जातक भी यह रत्न धारण कर सकते हैं। 

इस रत्न को धारण करने से पहले किसी अच्छे पंडित से सलाह अवश्य लें। 

गोमेद रत्न के लाभ

हालांकि इस रत्न को धारण करने से लाभ और हानि दोनों ही हो सकते हैं। आइए हम आपको इसके धारण करने से होने वाले लाभ के बारे में बताते हैं। 

  • यह व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को एक सकारात्मक गति देता है।
  • इस रत्न के बारे में कहा जाता है कि जो भी व्यक्ति इसे धारण करता है वह साहसी और निडर बन जाता है और सभी भय पर विजय प्राप्त करता है। 
  • यह ऐसे व्यक्तियों की मदद करता है जो सदैव दो रास्ते में से एक का चुनाव नहीं कर पाते अर्थात यह व्यक्ति की निर्णय लेने की क्षमता में सुधार करता है। 
  • इस रत्न को धारण करने वाला व्यक्ति तनाव से मुक्त रह सकता है। जो व्यक्ति इस रत्न को धारण करता है वह चिंताओं से मुक्त हो जाता है। 
  • इस रत्न को धारण करने से पति-पत्नी की आपसी संबंध सुधर सकते हैं। क्योंकि पति-पत्नी का संबंध एक बहुत ही अहम रिश्ता होता है और इसमें तालमेल और आपसी सहयोग की बहुत आवश्यकता होती है। 
  • यह यात्रा वाले व्यवसायी की मदद कर सकता है।
  • कहा जाता है कि जो व्यक्ति इस रत्न को धारण करता है उसके जीवन से आर्थिक संकट बहुत दूर हो जाता है और उसके व्यवसाय में भी वृद्धि होने लगती है। 
  • इस रत्न को धारण करने वाले व्यक्ति कई प्रकार के रोगों से भी छुटकारा पा सकता है। 
  • यह सांस से संबंधित बीमारी और किसी प्रकार की एलर्जी या इन्फेक्शन में भी फायदेमंद साबित होता है। 
  • यह रत्न व्यक्ति को आध्यात्म की ओर मोड़ देता है। 

गोमेद रत्न को धारण करने का सही दिन

गोमेद रत्न को पहनने का लाभ तभी अर्जित किया जा सकता है जब इसे सही समय पर धारण किया जाए। 

  • व्यक्ति को यह रत्न कृष्ण पक्ष के शनिवार के दिन धारण करना चाहिए, हालांकि किसी भी शनिवार को यह रत्न धारण किया जा सकता है लेकिन कृष्ण पक्ष के शनिवार के दिन धारण करने से और अधिक लाभ अर्जित होता है। 
  • इस रत्न को धारण करने का सही समय सूर्योदय के वक्त का होता है मतलब की सुबह 4:00 बजे से लेकर 7:00 बजे के बीच में ही धारण करें।
  • इस रत्न को दाएं हाथ की मध्य उंगली में ही पहना जाना चाहिए। 

व्यक्ति चाहे तो इस रत्न को पेंडेंट और ब्रेसलेट के रूप में भी पहन सकता है। 

गोमेद रत्न धारण करने के दुष्प्रभाव

जैसा कि हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि इस रत्न को पहनने से लाभ और हानि दोनों ही होते हैं। तो आपके लिए यह बहुत जरूरी है कि आप इसे धारण करने से पहले इसके दुष्प्रभाव के बारे में जान ले। 

  • दुर्घटना में चोट लगने की संभावना।
  • बीमारी से जूझने की संभावना।
  • समाज में आपकी इज्जत पर बुरा प्रभाव पड़ना।
  • आपके जीवन में ऐसी कई समस्याओं का आ जाना जिन पर आपका बिल्कुल बस ना चल सके। 
  • आपकी आर्थिक स्थिति खराब हो सकती है। 

इन सब दुष्प्रभावों से बचने का एकमात्र तरीका यह है कि आप इस रत्न को धारण करने से पहले किसी अच्छे पंडित से सलाह ले। 

आइये जाने राहु को शांत करने के घरेलू उपाय

प्रिय पाठकों हम यह आशा करते हैं कि गोमेद रत्न पर लिखा गया हमारा यह लेख आप सबके लिए काफी मददगार होगा। यदि आप इस लेख से संबंधित कुछ भी हमारे साथ साझा करना चाहते हैं तो हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 4.7 / 5. Vote count: 9341

No votes so far! Be the first to rate this post.

As you found this post useful...

Follow us on social media!

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

8 COMMENTS

  1. क्या वाकई में यह रत्न धारण कर लेने से राहु की दशा से मुक्ति पाई जा सकती है ??

  2. हम जानना चाहते हैं कि क्या गोमेद रत्न हमें ऑनलाइन मिल सकता है और उसके साथ ही हम यह भी जानना चाहते हैं कि इस रत्न की कीमत क्या है बाजार में ??

  3. क्या गोमेद रत्न धारण कर लेने से शनि दशा से भी मुक्ति पाई जाती है क्या यह गोमेद रत्न वाकई में इतना कारगर है ??

  4. असली गोमेद रत्न की क्या पहचान होती है कृपया हमें गोमेद रत्न की असली होने की पहचान बताएं धन्यवाद।

  5. क्या इस रत्न के धारण करने के बाद व्यक्ति भय से मुक्त हो जाता है क्या उसे किसी तरह का कोई भय नहीं रहता ??

  6. क्या हमको उम्मीद रतन को ऑनलाइन भी मंगा सकते हैं यदि हां तो हमें असली गोमेद रत्न को ऑनलाइन मंगवाने की वेबसाइट या फिर एप्लीकेशन के बारे में जानकारी दें ?

  7. जीवन से जुडी समस्याओं को लेकर क्या क्या मै भी इस रत्न को धारण कर सकता हु मेरी राशि मेष है

  8. गोमेद रत्न के बारे में हम जानना चाहते हैं कि क्या अलग-अलग राशि के व्यक्तियों को अलग रंगों वाले रत्न धारण करने चाहिए इसके साथ ही मेरी राशि मेष है इसलिए हम पूछना चाहता हूं मेरे लिए कौन से रंग का रत्न फायदेमंद सिद्ध होगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

− 2 = 1

Captcha verification failed!
CAPTCHA user score failed. Please contact us!
- Advertisment -

RECENTLY ADDED

- Advertisment -

Must read

CURRENT SALE

spot_img